वैज्ञानिकों ने बनाया ऐसा कपड़ा, जो शरीर की गर्मी से छोटे उपकरणों को देगा ऊर्जा

आधुनिक समय में जितनी तेजी से विस्तार टेक्नोलॉजी का हो रहा है शायद ही कोई और चीज उतनी तेजी से विकसित हो रही हो. आज रोज विज्ञान कि दुनिया में नए नए चमत्कार हो रहे हैं जिन्हें जानकर आप आश्चर्य में पड़ जाएंगे. अब वैज्ञानिकों ने एक ऐसा कपड़ा तैयार किया है जो आपके शरीर की गर्मी को लेकर एक्टिविटी ट्रैकर्स जैसे पहने जा सकने वाले छोटे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को ऊर्जा दे सकता है या उन्हें चार्ज करने का काम कर सकता है.

अमेरिका में मैसाच्युसेट्स एमहर्स्ट विश्वविद्यालय की तृषा एंड्रयू ने कहा कि पहने जा सकने वाले कई बायोसेंसर, डेटा ट्रांसमिटर और ऐसे ही उपकरणों को स्वास्थ्य की निगरानी करने के लिए रचनात्मक तौर पर लघु रूप में बनाया गया. उन्होंने कहा कि हालांकि इन्हें काफी ऊर्जा की जरुरत होती है और ऊर्जा देने या चार्ज करने वाले यंत्र भारी हो सकते हैं. पत्रिका एडवांस्ड मैटिरियल्स टेक्नोलॉजीज़ में प्रकाशित इस अध्ययन में बताया गया है कि शरीर के ताप और एम्बियंट कूलर एयर के बीच अंतर का फायदा उठाकर शरीर की गर्मी से ऊर्जा पैदा हो सकती है जिसका उपयोग हम इस प्रकार के कपड़े को चार्ज करने के लिए कर सकते हैं.

शोधकर्ताओं ने बताया कि कुछ अध्ययनों में पता चला कि आठ घंटे तक काम करने वाले किसी मनुष्य के शरीर से थोड़ी सी ऊर्जा ली जा सकती है लेकिन इसके लिए आवश्यक विशेष वस्तु या तो बहुत महंगी, जहरीली है या उतनी प्रभावकारी नहीं हैं. एंड्रयू ने कहा, ‘‘इस तरीके से हमने सस्ता वाष्पीकृत प्रिंट वाला जैव अनुकूल, लचीला और हल्की पॉलीमर फिल्म वाला सूती कपड़ा बनाया जिसमें पर्याप्त ताप विद्युत विशेषताएं होंगी. यह कपड़ा किसी छोटे उपकरण को ऊर्जा देने के लिए पर्याप्त होगा.’’