अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद जुनैद अजीम मट्टू को श्रीनगर के महापौर पद से हटाया

श्रीनगर नगर निगम (एसएमसी) के महापौर जुनैद अजीम मट्टू के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद मंगलवार को उन्हें पद से हटा दिया गया। पीपुल्स कांफ्रेंस के नेता मट्टू को दो साल पहले श्रीनगर नगर निगम (एसएमसी) का महापौर चुना गया था। तब से ही उनके चुनाव को लेकर विवाद चल रहा था। मट्टू ने खुद को पद से हटाये जाने की जानकारी ट्विटर पर दी। उन्होंने ट्वीट किया, ”एसएमसी में मेरे और जम्मू-कश्मीर पीपुल्स कांफ्रेंस के खिलाफ प्रस्ताव पारित हो गया है। कुल 70 में से 42 वोट प्रस्ताव के पक्ष में पड़े। भाजपा, जम्मू-कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस और कुछ निर्दलीय पार्षदों ने जम्मू-कश्मीर पीपुल्स कांफ्रेंस के खिलाफ वोट दिया जबकि कांग्रेस ने अपने 28 पार्षदों को व्हिप जारी कर मतदान में हिस्सा नहीं लेने के लिये कहा था। उन्होंने कहा, ”मैं निगम के फैसले का सम्मान करता हूं।” मट्टू के खिलाफ पहले भी अविश्वास प्रस्ताव पेश किए गए, लेकिन वे पारित नहीं हो सके थे। उन्होंने दावा किया कि नेशनल कांफ्रेंस और भाजपा ने हाथ मिला लिया है।