J&K: सैयद अली शाह गिलानी की हालत स्थिर- चिकित्सक

जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी की हालत स्थिर हैं और उनकी तबीयत में सुधार हो रहा है। चिकित्सकों ने यह जानकारी दी। एसकेआईएमएस अस्पताल के निदेशक ए. जी. एहंगर ने कहा ‘सैयद अली शाह गिलानी की हालत स्थिर है और वह ठीक हैं और सहयोग कर रहे हैं। डॉक्टरों की एक टीम उनकी सेहत पर नजर रख रही है।’
इससे पहले दिन में एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया था कि 90 वर्षीय गिलानी की हालत में सुधार हो रहा है। एसकेआईएमएस अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक ने कहा, ‘गिलानी की हालत स्थिर है, हालांकि उनकी छाती में अब भी संक्रमण है। वह ठीक हो रहे हैं और पहले से बेहतर हैं।’ उन्होंने कहा कि चिकित्सकों के एक दल ने शनिवार को गिलानी के स्वास्थ्य की जांच की थी। चिकित्सक ने कहा, ‘जीएमसी श्रीनगर के चेस्ट मेडिसिन के डॉक्टर नवीद की सलाह पर वह तरल पदार्थ और दवाइयों पर हैं।’

अलगाववादी नेता गिलानी की सेहत के संबंध में अफवाहों को रोकने के लिए अधिकारियों ने इस सप्ताह की शुरुआत में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद करना पड़ा था। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए भी हैदरपोरा में गिलानी के आवास के पास सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

गिलानी 1990 में आतंकवाद के उभरने के बाद से कश्मीर घाटी में अलगाववादी आंदोलन की अगुवाई कर रहे हैं। वह 2010 के आंदोलन के बाद से ज्यादातर समय नजरबंद रहे हैं। गिलानी तीन बार विधायक रहे हैं। वह 1972, 1977 और 1987 का चुनाव सुपोर निर्वाचन क्षेत्र से जीते थे।