‘अनुच्छेद 370 को खत्म करना असंवैधानिक’: गुप्कर नेता

संविधान के अनुच्छेद 370 को निरस्त करने को ‘असंवैधानिक’ करार देते हुए गुप्कर घोषणापत्र पर हस्ताक्षर करने वाले नेताओं ने कहा कि पांच अगस्त 2019 के घटनाक्रम ने जम्मू-कश्मीर और नयी दिल्ली के बीच संबंध बदल दिए हैं।

पिछले साल चार अगस्त को गुप्कर की घोषणा के बाद पहली बार शनिवार को यहां नेशनल कांफ्रेंस के (एनसी) के अध्यक्ष डॉ. फारूक अब्दुल्ला, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती, प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के वरिष्ठ नेता मोहम्मद यूसुफ तारगामी, अवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस (एएनसी) के उपाध्यक्ष मुजफ्फर शाह और पीपल्स कॉन्फ्रेंस (पीसी) के अध्यक्ष सज्जाद गनी लोन ने संयुक्त बयान जारी किया। श्री लोन पीडीपी-भारतीय जनता पार्टी गठबंधन सरकार में भगवा पार्टी के कोटे से मंत्री थे।