अमेरिका में पति-पत्नी और उनके दो बच्चों की संदिग्ध हालत में मौत

अमेरिका के आयोवा में चार भारतीय अपने घर में मृत पाए गए हैं. आयोवा की राजधानी डेस मोइनेस में एक तेलुगु भाषी पति-पत्नी और उनके दो बच्चों की मौत हुई है. चारों को गोली लगी है. वेस्ट डेस मोइनेस पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

आयोवा की राजधानी डेस मोइनेस में 44 वर्षीय चंद्रशेखर सुनकारा, 41 वर्षीय लावण्या सुनकारा, 10 वर्षीय लड़का और 15 वर्षीय लड़का घर के अंदर मृत पाए गए. वेस्ट डेस मोइनेस पुलिस के अनुसार. पति-पत्नी और अपने दो बच्चों के साथ मेहमान के रूप में रह रहे थे. चारों अपने घर में मृत पाए गए.

वेस्ट डेस मोइस पुलिस ने बताया कि दो वयस्क और दो बच्चे मेहमान के तौर पर रह रहे थे. लोगों ने पुलिस को फोन करके इस घटना की जानकारी दी. आयोवा डिपार्टमेंट ऑफ क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन घटनास्थल पर छानबीन में जुटा हुआ है.

चंद्रशेखर सांकरा आयोवा डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक सेफ्टीज टेक्नोलॉजी सर्विस ब्यूरो में कार्यरत थे, जबकि लावण्या एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर भी थीं. अमेरिका की तेलुगु एसोसिएशन परिवार की मदद के लिए चिंता विभाग और भारतीय दूतावास के संपर्क में है.