J&K: 26 अगस्त से शुरू होगा माता वैष्णो देवी यात्रा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, कर सकेंगे हेलीकॉप्टर की बुकिंग

कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए केंद्र सरकार ने देशभर में मार्च के आखिरी दिनों में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया. इसके चलते देश में सभी तरह के कारखानें, कंपनियां, मंदिर और मस्जिद जैसी तमाम जगहों पर लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया. धीरे अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हुई है. लगभग पांच महीने बाद मां वैष्णो देवी यात्रा के लिए सरकार ने सशर्त अनुमति पहले ही दे दी थी. अब वैष्णो देवी यात्रा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और हेलीकॉप्टर बुकिंग भी बुधवार से शुरू हो जाएगी.

माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार जांगिड़ ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा,”वैष्णो देवी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और हेलीकॉप्टर बुकिंग 26 अगस्त से 5 सितंबर तक है.” इस दौरान यात्रा करने वाले हेलीकॉप्टर और ऑनलाइन बुकिंग जरिए माता वैष्णों देवी के दर्शन कर सकता है. बता दें कि सरकार ने 18 मार्च 2020 से वैष्णो देवी यात्रा पर रोक लगा दी थी. 16 अगस्त से इसे फिर से बहाल किया गया है.

समीक्षा के आधार पर फैसला

माता वैष्णों देवी दर्शन के लिए खास नियम बनाए गए थे. श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (एसएमवीएसबी) ने पहले सप्ताह में हर रोज अधिकतम 2,000 तीर्थयात्रियों की सीमा तय की है, जिनमें से 1,900 यात्री जम्मू-कश्मीर और शेष 100 यात्री बाहर के होंगे. इसके बाद हालात की समीक्षा की जाएगी और उसी के अनुसार फैसले किए जाएंगे. स्थिति में सुधार देखते हुए बोर्ड ने हेलीकॉप्टर सेवा और यात्रा रजिस्ट्रेशन सेवा बहाल की है.

कटरा से भवन जाने के लिए इन रास्तों का होगा इस्तेमाल
10 साल से कम आयु के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों और 60 साल से अधिक आयु के लोगों के लिए यात्रा नहीं करने का परामर्श जारी किया गया है. हालात सामान्य होने के बाद इस परामर्श की समीक्षा की जाएगी. कटरा से भवन जाने के लिए बाणगंगा, अर्धकुंवारी और सांझीछत के पारम्परिक मार्गों का इस्तेमाल किया जाएगा और भवन से आने के लिए हिमकोटि मार्ग-ताराकोट मार्ग का इस्तेमाल किया जाएगा.