फोनी पर ‘सियासी तूफान’, ममता बनर्जी ने PM मोदी संग समीक्षा बैठक से किया इनकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ओडिशा में चक्रवात ‘फोनी’ के कारण हुई क्षति का आकलन करने के लिए हवाई सर्वेक्षण किया. इसके बाद ओडिशा के मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक और शीर्ष अधिकारियों संग समीक्षा बैठक भी की. उन्‍हें पश्चिम बंगाल में भी ऐसी ही समीक्षा बैठक करनी थी. लेकिन पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने उनके साथ फोनी समीक्षा बैठक करने से इनकार कर दिया.

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार पीएम मोदी को केंद्र सरकार की ओर से पश्चिम बंगाल के शीर्ष अफसरों के साथ फोनी के बाद राज्‍य के हालात पर समीक्षा बैठक करनी थी. इसके लिए पश्चिम बंगाल सरकार को केंद्र सरकार की ओर से खत भी लिखा गया था. लेकिन राज्‍य सरकार ने सभी अफसरों के चुनाव ड्यूटी में तैनात होने का हवाला देकर समीक्षा बैठक से इनकार कर दिया.

बता दें कि पीएम मोदी ने सोमवार को ओडिशा के हवाई दौरे के बाद केंद्र सरकार की ओर से आपदा प्रभावित ओडिशा को 1000 करोड़ रुपये अतिरिक्‍त सहायता राशि देने का ऐलान किया. इससे पहले ओडिशा को केंद्र सरकार की ओर से 381 करोड़ रुपये बतौर सहायता राशि दी जा चुकी है.

पीएम मोदी ने इस दौरान मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक की तारीफ भी की. उन्‍होंने कहा, ‘नवीन बाबू ने बहुत अच्‍छा प्‍लान किया है. केंद्र सरकार उनके साथ रह करके सभी चीजों को आगे बढ़ा पाएगी. पीएमओ की टीम भी आई है और आज यहां रुकेगी.’ उन्‍होंने कहा कि ओडिशा के नागरिकों को धन्यवाद है. उन्होंने राज्य सरकार की बात को माना. 12 लाख लोगों को सुरक्षित स्‍थान पर शिफ्ट करना बहुत बड़ी बात है. मृतकों के परिजनों के लिए 2 लाख रुपये दिए जाएंगे और घायलों के इलाज की समुचित व्यवस्था होगी.