आग का गोला बना विमान, धू-धू करते हवाई जहाज से कूदे लोग, 2 बच्‍चों समेत 41 की मौत

मॉस्‍को: रूस की राजधानी मॉस्‍को में रविवार को एक बड़ा विमान हादसा हुआ. लैंडिंग से पहले ही एक विमान में आग लग गई. लैंडिंग से पहले ही ये विमान एक आग का गोला बन चुका था. चारों ओर से आग की लपटों से घिरे इस विमान से लोगों को किसी तरह से बाहर निकाला गया. रूसी जांचकर्ता के अनुसार, इमरजेंसी स्‍लाइड लगाकर लोग उससे निकलकर बाहर आए. विमान में आग लगने की घटना में दो बच्चे समेत 41 लोगों की मौत हो गई.

रविवार को मॉस्‍को के शेरमेतेवो एयरपोर्ट पर लैंडिंग के वक्‍त सुखोई सुपरजेट 100 पैसेंजर एयरलाइनर विमान में आग लग गई. रसि‍यन एयरलाइंस का इस विमान की आपात लैंडिंग कराई गई. जांच एजेंसी के मुताबिक, इस प्‍लेन में 73 यात्री और 6 क्रू मेंबर सवार थे. ये सुखोई यात्री विमान रशियन एयरलाइन द्वारा संचालित किया जाता है.

ये विमान मॉस्‍को से उत्‍तरी शहर मर्मांस्‍क जा रहा था. लेकिन बीच उड़ान में ही इसमें तकनीकी खराबी आ गई. इस कारण इसे बीच में ही लौटना पड़ा. इससे पहले कि विमान सुरक्ष‍ित लैंड कर पाता विमान के इंजन ने आग पकड़ ली. देखते ही देखते पूरा विमान आग की लपटों में घिर गया. आग के बाद तुरंत इमरजेंसी स्‍लाइड लगाकर यात्र‍ियों को इससे उतारा गया, लेकिन इस हादसे में 2 बच्‍चों समेत 41 लोगों की मौत हो गई.