OMG: जिस देश से कोरोना फैला, वही इलाज वाले अस्‍पताल क्‍यों कर रहा बंद?

न चीन किसी को कारण बता रहा है न कोई चीन से कारण पूछ रहा है कि आखिर क्यों वहां कोरोना हॉस्पिटल्स को अब बंद किया जा रहा है? इसके पीछे क्या ख़ास वजह हो सकती है. ये तो उलटा काम है क्योंकि कोरोना का ऑउटब्रेक चीन से ही हुआ है और दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना के मरीज भी वहीं हैं. ऐसे में अस्पतालों को बंद करने के पीछे की वजह चीन के चरित्र की तरह ही रहस्‍यमय ही लग रही है. 

वुहान में बंद किये जा रहे हैं अस्पताल 

चीन में वुहान वही सिटी है जहां से कोरोना वायरस निकल कर दुनिया भर में फ़ैल गया है. जहां कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज चीन में हैं वहीं चीन में कोरोना के सबसे अधिक रोगी वुहान में हैं. ऐसे में हैरानी होती है ये देखकर कि इस वायरस के मरीजों का इलाज करने के लिए खोले गए अस्‍पताल बंद क्यों किये जा रहे हैं. चीन से आई खबर के मुताबिक़ सरकार के आदेश पर वुहान में कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के लिए खोले गए अस्‍थायी अस्‍पतालों में से 11 बंद कर दिए गए हैं.

नए मामले कम हो रहे हैं 

ये अच्छी खबर है कि चीन में कोरोना वायरस के नए मामलों की संख्‍या लगातार घटती जा रही है. इस खबर से दुनिया को राहत मिल सकती है और यह संदेश भी जा सकता है कि कोरोना अजेय नहीं है. फिलहाल हालत ये है कि वुहान के आलावा किसी दूसरे शहर से कोरोना के नए मामले सामने नहीं आ रहे हैं. वुहान में दो दिन पहले 40 नए मामले सामने आए थे, जबकि आज की तारिख में पूरे चीन से अब तक 18 नए मामले सामने आए हैं. 

दुनिया में हुए सवा लाख लोग संक्रमित 

इस चीनी वायरस ने आज दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है जबकि सबसे अधिक कोरोना संक्रमित लोग चीन में ही हैं जिनकी संख्या अस्सी हज़ार से ऊपर है. वहीं दुनिया भर में अब तक कुल सवा लाख लोग इस संक्रमण के शिकार हुएहैं जबकि लगभग साढ़े चार हज़ार लोग कोरोना से मारे भी गए हैं.