बांग्लादेश के डॉक्टरों ने कोरोना वायरस की दवा ढूंढने का किया दावा, कहा- ठीक हो रहे मरीज

कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हुई हैं. इसी बीच बांग्लादेश के डॉक्टरों ने कोरोना वायरस (Coronavirus) की दवा खोजने का दावा किया है. बांग्लादेश की एक मेडिकल टीम का दावा है कि दो दवाओं को मिलाकर तैयार किये गए एंटीडोट से कोरोना वायरस (Coronavirus) के लक्षणों वाले मरीजों को ठीक करने में चौंकाने वाले परिणाम मिले हैं.

बांग्लादेशी मेडिकल टीम ने खतरनाक कोविड-19 (COVID-19) के इलाज का दावा उस वक्त किया है, जब विश्व के अन्य देश निराश हो चुके हैं. प्राइवेट बांग्लादेश मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (BMCH) के मेडिसीन विभाग के प्रमुख डॉक्टर मोहम्मद तारेक आलम का कहना है कि दो दवाओं को मिलाकर बनाए गए एंट्रीडोट से 60 कोरोना मरीज ठीक हुए है.

शोध के अनुसार, एक एंटीबायोटिक, डॉक्सीसाइक्लिन के साथ एक सिंगल डोज में अक्सर इवरमेक्टिन नामक एंटीप्रोटोजोअल दवा का इस्तेमाल किया जाता है, जो COVID-19 के मरीजों को ठीक करने में चमत्कारिक परिणाम देता है.

जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अनुसार, कोरोनोवायरस (Coronavirus) से चीन में 46,50,793 से अधिक संक्रमित हुए और इससे 3,12,115 मौतें हुईं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बांग्लादेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 22,268 पहुंच गया है और इससे ठीक होने वालों की संख्या 4,373 और मौत का आंकड़ा 328 है. जबकि कोविड-19 से दुनियाभर में करीब 40 लाख से भी ज्यादा लोग संक्रमित हैं और मौत का आंकड़ा 3 लाख 15 हजार है.