भारत ने जारी किया जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का नया मानचित्र, पाकिस्तान को ‘मिर्ची’ क्यों लगी?

पाकिस्तान (Pakistan) अब जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) और लद्दाख (Ladakh) के नए मानचित्र को लेकर रोना रो रहा है. आखिर कश्मीर में उसका आतंकी प्लान नाकाम जो हो चुका है. उधर, करतारपुर कॉरिडोर (kartarpur Corridor) का उद्धाटन होने में सिर्फ 4 दिन बचे हैं और जैसे-जैसे वक्त करीब आ रहा है, कॉरिडोर से जुड़ी पाकिस्तान की साज़िश का खुलासा हो रहा है. नया खुलासा बीएसएफ (BSF) की तरफ से किया गया है, जिसमें कहा गया है कि कॉरिडोर के करीब आतंकी कैंप हैं जहां ट्रेनिंग जारी है. शायद यही वजह है कि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को आस्था के कॉरिडोर को लेकर पाकिस्तान की नीयत पर भरोसा ही नहीं हो रहा.

भारत के नए मानचित्र से पाकिस्तान को ‘मिर्ची’!
पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया, विरोध जताया है. मंत्रालय ने अपने ट्वीट में कहा, “भारत की तरफ से 2 नवंबर को जारी किया गया मानचित्र गलत है. मानचित्र कानूनी रूप से गलत है, सुरक्षा परिषद प्रस्तावों के खिलाफ है. ये राजनीतिक मानचित्र, संयुक्त राष्ट्र के मानचित्र से मेल नहीं खाते. ‘कोई भी कदम J&K की विवादित क्षेत्र की स्थिति को नहीं बदल सकता.”

उधर, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अभी तक हम जम्मू कश्मीर जाते थे तो वो विभाजित भी था और अलगाववाद और आतंकवाद के नक्शे में भी था, अब वो संपूर्ण देश के मानचित्र में भी है. यह व्यवहार में भी स्थापित होगा.

कश्मीर से करतारपुर तक पाक की धोखेबाज़ी कब तक?
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा है कि 70 साल में करतारपुर याद नहीं आया, उन्हें या गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी नहीं याद आयी या दूसरे गुरुद्वारों को वो खोलना चाह रहे हैं पहले कहां थे पर अब को यह 20 20 प्रोग्राम चला है वो सिखों की सहानुभति लेना चाह रहे हैं इसलिए उन्होंने ऐसा किया. करतारपुर कॉरिडोर के बहाने ISI की आतंकी साज़िश पर अमरिंदर ने कहा कि यह चीज मैं बहुत पहले से के रहा हूं कि हमें अपनी आंखें खोल कर रखनी है. इसका मतलब यह नहीं है कि वो (आतंकवादी) करतारपुर से चलकर आएंगे.

आस्था के नाम पर आंतकी साज़िश?
BSF सूत्रों के हवाले से ख़बर कि पाकिस्तानी पंजाब के नारोवाल में आतंकी गतिविधियां जारी हैं. पाकिस्तान के नारोवाल में ही करतारपुर साहिब गुरुद्वारा है. पाकिस्तान के मुरीदके, शकूरगढ़, नारोवाल में आतंकी ट्रेनिंग कैंप हैं. आतंकी ट्रेनिंग कैंपों में पुरुषों और महिलाओं की ट्रेनिंग दी जा रही है. इखलासपुर, शकूरगढ़ में लगातार आतंकियों की आवाजाही है.