इमरान का एलान- श्रद्धालु बिना पासपोर्ट आ सकेंगे करतारपुर, 10 दिन पहले रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं

गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले सिख श्रद्धालुओं के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने नियमों में छूट दी है। इसकी जानकारी उन्होंने ट्विटर के जरिए दी। खान ने लिखा, ‘भारत से करतारपुर आने वाले सिखों के लिए दो बातें जरूरी हैं। पहला उन्हें पासपोर्ट की जरूरत नहीं है केवल एक वैध पहचान पत्र चाहिए और दूसरा उन्हें 10 दिन पहले रजिस्ट्रेशन कराने की कोई आवश्यकता नहीं है।’

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि करतारपुर के उद्घाटन के दिन और गुरू नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व के दिन कोई शुल्क नहीं लगेगा। वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह गुरुवार को करतारपुर कॉरिडोर की तैयारियों का जायजा लेने के लिए डेरा बाबा नानक सीमा पर पहुंचे। जहां उन्होंने कहा कि कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा की अगुवाई में 31 लोगों के प्रतिनिधिमंडल को पाकिस्तान ने गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब के दर्शनों की अनुमति नहीं दी।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने छोटापन दिखाया है। प्रतिनिधिमंडल ने पाकिस्तान में पहुंच कर अखंड पाठ रखवाना था। कैप्टन ने कहा कि पाकिस्तान एक तरफ कह रहा है कि वह गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी बना रहे हैं और कॉरिडोर खोल रहे हैं तो उनके 31 लोग पहले ही वफद के रूप में पुख्ता प्रबंध करने के लिए पाकिस्तान चले जाते तो क्या गलत होता। गुरुवार को कॉरिडोर पर पहुंचे सीएम ने स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों से कार्यों की समीक्षा की।